top of page

सूअर भरता बनाना सीखिए त्रिपुरा स्टायल में

भारत के उत्तर पूर्वी भाग में स्थित त्रिपुरा विविध प्रकार के व्यंजनों का खज़ाना है। इस राज्य की 19 आदिवासी जनजातियों में तरह-तरह के पकवान बनाए जाते हैं लेकिन इनमें से सबसे लोकप्रिय व्यंजन सूअर भरता है।

यह त्रिपुरा के आदिवासियों के बीच पसंदीदा होने के साथ-साथ त्रिपुरा में रहने वाले अन्य जातियों के लोगों में भी मशहूर है।


कैसे बनाते हैं सूअर भरता?

सुअर भरता। फोटो साभार- खुमतिया


यह पकवान बनाने के लिए सूअर का मांस, प्याज़, अदरक, नमक और सुखी मिर्ची की ज़रूरत पड़ेगी। सबसे पहले प्याज़ और अदरक को बारिकी से काट लेते हैं, जिसके बाद सुखी मिर्ची को तवे पर रखकर धीमी आंच पर भुना जाता है।


इस भुनी हुई मिर्ची को फिर पीसा जाता है। उसी दौरान सूअर के मांस को भी कुकर या अलग पतीले में पानी देकर 30 मिनट के लिए उबालकर पका लेते हैं।

सुअर भरता। फोटो साभार- खुमतिया


उसके बाद पिसी हुई सुखी मिर्ची को प्याज़ और अदरक के साथ अच्छे से मिला लेते हैं। सूअर भरता में ज़्यादा मात्रा में प्याज़ का प्रयोग होता है ताकि भरते का स्वाद और ज़्यादा बढ़े।


सारी सामग्रियों को अच्छे से मिलाने के बाद इसको और थोड़ा पीसा जाता है फिर इन्हीं सामग्रियों को मांस वाले पतीले में डाल दिया जाता है। इसे ठीक से मिलाने के बाद इसमें स्वाद अनुसार धनिया के पत्ते भी डाले जाते हैं।

यह तैयार है सुअर का भरता। त्रिपुरा के जनजातियों का यह लोकप्रिय व्यंजन बनाना इतना आसान है कि आप भी बिना किसी कठिनाई के इसे बना सकते हैं।

सुअर का मांस खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ इसमें बड़ी मात्रा में प्रोटीन, महत्वपूर्ण विटामिन और धातु हैं।


लेखिका के बारे में- खुमतिया, त्रिपुरा की निवासी हैं। वो BA की पढ़ाई कर चुकी हैं और समाज सेविका बनना चाहती हैं। वो गाने, घूमने, फोटोग्राफी और वीडियो एडिटिंग में रुचि रखती हैं।


यह लेख पहली बार यूथ की आवाज़ पर प्रकाशित हुआ था

Comentários


bottom of page